सिवनी

  • सिवनी – कटंगी के प्रदर्शनकारियों ने सांसद ढाल सिंह बिसेन के निवास पहुंचकर राखी अपनी मांगे, सौंपा ज्ञापन

    सिवनी बालाघाट के सांसद ढाल सिंह बिसेन के निवास स्थान पर सोमवार को बालाघाट कटंगी के प्रदर्शनकारी पहुंचकर अपनी मांग रखी और ज्ञापन सौंपा है।

    जानकारी के अनुसार बालाघाट से लेकर कटंगी में कई दिनों से किसान नागरिक ग्रामीण हड़ताल पर बैठे हुए हैं सोमवार को दोपहर में कटंगी से बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी सिवनी बालाघाट सांसद डॉ ढाल सिंह बिसेन के निवास स्थान पर पहुंचे और प्रदर्शनकारियों के अनुसार कटंगी तिरोड़ी अमान परिवर्तन के भू- अधिग्रहितो को नौकरी नहीं दिए जाने को लेकर जानकारी देते हुए ज्ञापन सौंपा गया है और नौकरी की मांग को लेकर 12 जनवरी से भूख हड़ताल भी की गई है ।।

    जानकारी के अनुसार अनशन कारियों का कहना है कि जब तक रेलवे नौकरी नहीं देगा तब तक प्रदर्शन जारी रहेगा वहीं इस मामले को प्रदर्शनकारियों का कहना है कि रीवा सीधी के पीड़ितों को नौकरी दी जा रही है तो यहां उनके साथ भेदभाव को किया जा रहा है अपनी मांगों को लेकर जब एक प्रतिनिधिमंडल सांसद ढाल सिंह बिसेन से मिला तो उन्होंने नियम का हवाला देकर प्रदर्शनकारियों को समझाने का भरपूर प्रयास किया है ।।

    प्रदर्शनकारियों ने बताया कि रेलवे की वादाखिलाफी का शिकार अभ्यर्थी नौकरी की मांग को लेकर ना जाने क्या-क्या जतन कर रहे हैं लेकिन उनकी समस्याओं का निराकरण नहीं हो रहा है

मध्य प्रदेश

  • साढ़े सात लाख रुपए कीमत की 464 पेटी शराब जप्त, नैनपुर पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी

    मंडला जिले की नैनपुर तहसील के अंतर्गत आने वाले ग्राम दिठोरी में पुलिस को सूचना मिली थी कि अवैध तरीके से एक वाहन में शराब लाई जा रही है जिसके बाद नैनपुर पुलिस स्टाफ डिठोरी पहुँचा जहां इन्हें एक 709 वाहन मिला जिसमें अवैध तरीके से शराब भरकर लाई जा रही थी इस वाहन को पुलिस ने पकड़कर नैनपुर थाने लाया और एक आरोपी जो वाहन चालक है उसे गिरफ्तार कर लिया है ।।

    पुलिस के द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार शराब की कीमत करीब साढे़ लाख रुपए है और इस वाहन से कुल 464 पेटी अवैध शराब जप्त गई है नैनपुर थाना प्रभारी आरएन दुबे ने बताया कि शराब कहां से आ रही थी और कहां जा रही थी इस बात की पूछताछ वाहन चालक से की जा रही है फिलहाल सामने यह आ रहा है कि शराब सिवनी जिले के घंसौर से लाई जा रही थी जो बनी या फिर छत्तीसगढ़ राज्य भेजी जानी थी ।।

    नैनपुर पुलिस के द्वारा अवैध शराब का वाहन पकड़े जाने की सूचना मिलने के बाद आबकारी विभाग का अमला भी नैनपुर पहुंच गया था और पुलिस के साथ ही आबकारी विभाग के द्वारा संयुक्त कार्यवाही की गई है।।